अपने पूर्व पीएम नरसिम्हा राव को श्रद्धांजलि देना भूले राहुल तो बीजेपी ने कसा तंज, जानिए क्या कहा

अपने पूर्व पीएम नरसिम्हा राव को श्रद्धांजलि देना भूले राहुल तो बीजेपी ने कसा तंज, जानिए क्या कहा

गृह राज्य मंत्री जीके रेड्डी ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर तंज कसते हुए कहा कि राहुल गांधी इतने व्यस्त हैं कि वे पीवी नरसिम्हा राव को उनकी 100 वीं जयंती पर श्रद्धांजलि देना “भूल गए” हैं। मंत्री ने कहा, ‘राव आजीवन कांग्रेसी थे, फिर भी यह देखने के लिए कि एक परिवार उनकी विरासत को कैसे रौंदता है। इस तरह की राजनीतिक छुआछूत दुर्भाग्यपूर्ण है। प्रधानमंत्री मोदी ने आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के प्रतिष्ठित लोगों की उपस्थिति में उनकी (पीवी नरसिम्हा राव) स्मृति में डाक टिकट जारी करने का निर्णय लिया है। कांग्रेस हो या कोई अन्य पार्टी, देश के लिए काम करने वाले किसी भी व्यक्ति को श्रद्धांजलि देने के लिए भाजपा पार्टी लाइनों से ऊपर उठती है।’

आज पूर्व प्रधानमंत्री पी वी नरसिम्हा राव को उनकी 100वीं जयंती पर श्रद्धांजलि देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश राष्ट्रीय विकास में उनके व्यापक योगदान को याद करता है। कांग्रेस के अनुभवी नेता, राव ने 1991 में प्रधानमंत्री पद संभालने के बाद पांच साल का कार्यकाल पूरा किया और उन्हें परिवर्तनकारी बदलावों को अमल में लाकर भारतीय अर्थव्यवस्था को उदारवादी बनाने का श्रेय दिया जाता है। मोदी ने ट्वीट किया, “ पूर्व प्रधानमंत्री श्री पी वी नरसिम्हा राव जी को उनकी 100 जयंती पर श्रद्धांजलि। भारत राष्ट्रीय विकास में उनके व्यापक योगदान को याद करता है। वे असाधारण ज्ञान एवं बुद्धिमता के धनी थे।’’ प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले साल के अपने रेडियो प्रसारण ‘मन की बात’ की एक क्लिप भी शेयर की जिसमें उन्होंने राव को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की थी।

पीएम के अलावा उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने भी पूर्व प्रधानमंत्री पी वी नरसिम्हा राव की 100वीं जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि दी और उन्हें भारत में आर्थिक सुधारों का ‘‘निर्विवाद पथ प्रदर्शक’’ बताया। नायडू ने कहा कि लोग राष्ट्र के विकास के प्रति राव की दृढ प्रतिबद्धता को हमेशा याद रखेंगे। राव जून 1991 और मई 1996 के बीच प्रधानमंत्री रहे थे।

उपराष्ट्रपति सचिवालय ने नायडू के हवाले से ट्वीट किया, ‘‘ एक कुशल प्रशासक, राजनेता, दूरदर्शी और भारत में आर्थिक सुधारों के निर्विवाद पथ प्रदर्शक पीवी नरसिम्हा राव को उनकी सौवीं जयंती पर विनम्र श्रद्धांजलि।’’ उपराष्ट्रपति ने कहा कि राव सही अर्थों में बहुआयामी व्यक्तित्व के धनी थे। वह बहुभाषाविद और एक प्रतिष्ठित विद्वान थे, जिन्होंने शिक्षा के माध्यम के रूप में मातृभाषा को प्रोत्साहित करने में गहरी रुचि दिखाई। राव का जन्म आज ही के दिन 1921 में करीमनगर में हुआ था, जो अब तेलंगाना में है।

साथ ही साथ कांग्रेस ने पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव की 100वीं जयंती के मौके पर उन्हें याद किया और कहा कि वह एक दूरदर्शी नेता थे जिनकी अगुवाई में बड़े आर्थिक परिवर्तन हुए एवं लाइसेंस राज का खात्मा हुआ।

पार्टी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर राव की तस्वीर साझा करते हुए कहा, ‘‘हम पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं। वह एक दूरदर्शी नेता थे जिनकी देखरेख में भारतीय अर्थव्यवस्था में बड़े आर्थिक बदलाव हुए तथा लाइसेंस राज का खात्मा हुआ। राष्ट्र के प्रति उनके योगदान को हमेशा याद किया जाएगा।’’

Amit Singh

Amit Singh

अमित सिंह, सच भारत में राजनीति और मनोरंजन सेक्शन लीड कर रहे हैं। उन्हें पत्रकारिता में करीब 5 साल का अनुभव है। इन्हें राजनीति और मनोरंजन क्षेत्र कवर करने का अच्छा अनुभव रहा है।थियेटर एक्टर रह चुके अमित ने टीवी से लेकर अखबार और देश की विभिन्न विख्यात वेबसाइट्स के साथ काम किया है।इन्होंने राष्ट्रीय स्तर की दर्जनों शख्सियतों का वीडियो और प्रिंट इंटरव्यू भी लिया है।अमित सिंह ने अपनी स्कूली शिक्षा लखनऊ से प्राप्त करने के बाद जामिया मिलिया इस्लामिया, नई दिल्ली से टीवी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है।

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *