‘जब पिता बीमार थे, दवाई के पैसे भी नहीं थे’, नाना पाटेकर का छलका दर्द

‘जब पिता बीमार थे, दवाई के पैसे भी नहीं थे’, नाना पाटेकर का छलका दर्द

KBC Marathi Show: ‘कौन बनेगा करोड़पति’ के मराठी वर्जन में हाल ही अभिनेता नाना पाटेकर (Nana Patekar) कर्मवीर स्पेशल एपिसोड में नजर आए। इस शो को अभिनेता सचिन खेडेकर होस्ट कर रहे हैं। इस एपिसोड के दौरान नाना पाटेकर अपने पिता को याद कर इमोशनल हो गए। एक्टर ने बताया कि पिता के अंतिम दिनों में उनके पास दवाईयों के लिए पैसे नहीं थे।

‘हमारे पास दवाईयों के लिए पैसे नहीं थे’
दरअसल, जब होस्ट सचिन ने नाना पाटेकर से उनके पिता के बारे में पूछा तो जवाब देते हुए एक्टर इमोशन हो गए। अभिनेता ने बताया,’मेरे पिता को ड्रामा और सिनेमा का बहुत शौक था। हालांकि वे मुझे शोज में लेकर नहीं जाते थे। वे कहते थे कि तुम खुद आओ और देखो कि कलाकार कैसे परफॉर्म करते हैं। उनके अंतिम दिनों में, वे बहुत बीमार थे और मेरी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी। दुर्भाग्य से पिता को म्यूनिसिपल हॉस्पिटल ले जाना पड़ा। हमारे पास दवाईयों के लिए पैसे नहीं थे। उस समय मेरे पिता जनरल वार्ड में थे।’

पिता को अंकल कहकर पुकारते थे नाना
नाना पाटेकर ने आगे बताया,’जब वे बीमार थे, तब मेरा नाटक ‘महासागर’ चल रहा था, उन्होंने केवल शुरूआत देखी थी। इसलिए मैंने मेरे अंकल को आकर देखने के लिए बोला। मैं अपने पिता को अंकल बोलता था। उन्होंने मना कर दिया। बोले, पिछली बार मैं देखने गया था और मेरा चश्मा गिर गया था। लेकिन मैंने उनको बुरा लगे, इसलिए नहीं बोला था। वे सीढ़िया चढ़ना नहीं चाहते थे। मैं उनको शिवजी मंदिर ले गया। मैंने यह प्रयोग केवल अपने पिता के लिए किया। इसके बाद वे शायद कुछ नहीं देख पाए। मैं पिता को कुछ नहीं दे पाया।’

शो के बाद किया पिता का अंतिम संस्कार
एक अन्य इंटरव्यू में नाना पाटेकर ने बताया था कि जब नाटक ‘महासागर’ के दौरान उनके पिताजी की तबीयत खराब थी, लेकिेन पैसे के जुगाड़ के लिए नाटक में जाना जरूरी था। उस दिन नाटक के तीन शो रखे गए थे। तभी अचानक मालूम चला कि उनके पिता नहीं रहे। नाटक को कैंसिल करने की बात हुई, लेकिन इससे सबका नुकसान होता। इस पर नाना ने खुद कहा कि नाटक जरूर होगा। एक शो पूरा कर नाना अपने कलाकार साथियों के साथ अस्पताल गए और अंतिम संस्कार किया। फिर वापस आकर ‘महासागर’ के दो और शोज किए।

Amit Singh

Amit Singh

अमित सिंह, सच भारत में राजनीति और मनोरंजन सेक्शन लीड कर रहे हैं। उन्हें पत्रकारिता में करीब 5 साल का अनुभव है। इन्हें राजनीति और मनोरंजन क्षेत्र कवर करने का अच्छा अनुभव रहा है।थियेटर एक्टर रह चुके अमित ने टीवी से लेकर अखबार और देश की विभिन्न विख्यात वेबसाइट्स के साथ काम किया है।इन्होंने राष्ट्रीय स्तर की दर्जनों शख्सियतों का वीडियो और प्रिंट इंटरव्यू भी लिया है।अमित सिंह ने अपनी स्कूली शिक्षा लखनऊ से प्राप्त करने के बाद जामिया मिलिया इस्लामिया, नई दिल्ली से टीवी पत्रकारिता की पढ़ाई पूरी की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *