GB WhatsApp: जल्दबाजी में डाउनलोड करने से पहले पढ़ लें ये खबर, खास फीजर्स के साथ है बड़ी मुसीबत

GB WhatsApp: जल्दबाजी में डाउनलोड करने से पहले पढ़ लें ये खबर, खास फीजर्स के साथ है बड़ी मुसीबत

WhatsApp को लेकर आए दिन अलग अलग खबरें सामने आती रहते हैं। कभी किसी वर्जन को लेकर तो कभी किसी खास फीचर को लेकर।

हर बार तमाम तरह के नए फीचर्स के दावे किए जाते हैं हालांकि इस सभी वर्जन को कभी WhaysApp की ओर से आधिकारिक तौर पर जारी नहीं किया जाता है।

अब WhatsApp का नया एक वर्जन कई सारे फीचर्स के दावे के साथ खूब वायरल हो रहा है। इसका एप का नाम GB WhatsApp है।

इस एप के साथ मैसेज को वापस लेने से लेकर ऑटो रिप्लाई  तक के फीचर्स मिल रहे हैं लेकिन क्या है एप आपके लिए सुरक्षित है, क्या इसे व्हाट्सएप ने ही आधिकारिक तौर पर रिलीज किया है? आइए जानते हैं इन सवालों के सच्चे जवाब सच भारत पर…

जानिए क्या है GB WhatsApp एप
सबसे पहले आपको यह जानना चाहिए कि GB WhatsApp को किसी थर्ड पार्टी कंपनी ने लॉन्च किया है। यह एप पूरी तरह से व्हाट्सएप जैसा ही है लेकिन इसे व्हाट्सएप ने आधिकारिक तौर पर लॉन्च नहीं किया है और ना ही इस एप को लेकर कोई जानकारी दी है। GB WhatsApp आमतौर पर एपीके फाइल के रूप में विभिन्न वेबसाइट पर मौजूद है।

GB WhatsApp के टॉप फीचर्स

Auto Reply
DND
Filter messages
Anti-revoke message
Share live locations
Revoke multiple messages
Send Maximum Pictures: एक बार में 90 से अधिक चित्र भेज सकते हैं
Download Statuses
Amazing Font
Mark the unread messages
Hide your status

यह आपको गूगल पर थर्ड पार्टी वेबसाइट पर मिलेगा। इसे डाउनलोड करने के बाद आपका फोन सुरक्षा कारणों से इसे इंस्टॉल करने से मना करेगा, यदि उसके बाद भी आप इसे इंस्टॉल करना चाहते हैं तो फोन की सेटिंग आपको बदलनी होगी। इसका रजिस्ट्रेशन भी असली व्हाट्सएप जैसा ही होगा।

जहां तक इस एप के साथ सिक्योरिटी की बात है तो आपको बता दें कि किसी भी एपीके या थर्ड पार्टी एप को गूगल सुरक्षित नहीं मानता है। ऐसे में GB WhatsApp भी सुरक्षित नहीं है। इस एप में कई  तरह के ऐसे फीचर्स मिलते हैं जो वास्तविक व्हाट्सएप एप में नहीं हैं।

इसका इस्तेमाल बेहद खतरनाक हो सकता है। क्योंकि, इसके इस्तेमाल से आपके डेटा में सेंध लगाई जा सकती है। हालांकि, इसमें ओरिजनल ऐप के फंक्शन के साथ-साथ कस्टमाइजेशन जैसे कई एडिशनल फीचर होने की वजह से कुछ यूजर्स इसका इस्तेमाल करते हैं।

Kavita Singh

Kavita Singh

कविता सिंह ''सच भारत'' में टेक्नोलॉजी और बिजनेस डेस्क को लीड कर रही हैं। पत्रकारिता की दुनिया में 6 वर्ष का अनुभव रखने वाली कविता ने आईआईएमसी से हिंदी पत्रकारिता में पीजी डिप्लोमा किया है। इन्होंने अपनी शुरुआती पढ़ाई लुधियाना में पूरी की है।

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *